ज्वार रोटी (जवारी की रोटी) | Jowar Ki Roti Recipe In Hindi

2

जवार कार्बोहायड्रेट और हाई कैलोरी से भरपूर होती है। जवार लस मुक्त होते है। साधारणतः जवारी की रोटी हाँथो से ही बनायीं जाती है, भारत के ग्रामीण लोग आज भी इसे मुख्य भोजन के रूप में खाते है। वे जवारी की रोटी को तीखी चटनी, कड़ी, प्याज और हरी मिर्च के साथ खाते है। ग्रामीण लोग ज्वार रोटी / Jowar Ki Roti बनाने के लिये आटा ख़रीदा नही करते बल्कि पहले जवार को अच्छी तरह सूरज की रौशनी में 2 दिन पर सुखाकर और फिर उसे नजदीक की आटा चक्की में जाकर पिसवाया और ताज़ा आटा तैयार किया।

ज्वार रोटी (जवारी की रोटी) / Jowar Ki Roti Recipe In Hindi

Jowar Ki Roti Recipe In Hindi

जवारी की रोटी आपके स्वास्थ के लिये भी बहुत लाभदायक है। इसके बेहतर स्वाद के लिये अक्सर इसे गर्म पिठला, झुनका या फिर ठेचा के साथ परोसा जाता है। आइये अब इसे बनाने की विधि के बारे में जानते है –

जवारी की रोटी बनाने की सामग्री
Content to prepare Jowar Ki Roti:

जवारी का आटा – 1 कप
पानी – गूंथने के लिये आवश्यकता नुसार
नमक – स्वादानुसार

जवारी की रोटी बनाने की विधि
Jowar Ki Roti In Hindi :

एक छोटे भगोने में ½ कप पानी लीजिये और उसे गर्म होने के लिये रख दीजिये। ध्यान रहे की पानी उबलना चाहिये ना की केवल थोडा गर्म होना चाहिये। उबालते समय आपको पानी में बुलबुले नजर आने चाहिये।

अब एक चौड़े बर्तन में जवारी का आटा लीजिये और उसमे नमक मिलाइये। अब पानी डालने के लिये तैयार रहे और आवश्यकतानुसार पानी डालकर आटे को गूँथ ले।

एक साथ पूरा पानी डालने की कोशिश ना करे। पहले आधा ही पानी डाले और आधी अलग रख दे। आटा अच्छी तरह से गूंथने के लिये आप चम्मच का उपयोग भी कर सकते है। जवार में लस ना आने के लिये हम यहाँ गर्म पानी का उपयोग कर रहे है। कन्नड़ में इसे जीगातु कहते है।

आटे में पानी डालने के बाद आप अपने हाँथो से आटे को गूँथ सकते हो और आटे को गूंथने के बाद उसे कुछ समय तक कमरे के तापमान में ही अलग रख दे। अब तैयार आटे में से थोडा सा आटा लेकर बड़े आकार का एक बॉल बनाये ताकि हम रोटी बना सके।

रोटी बनाने के लिये आपको आटे की गेंद को हल्का सा दबाकर पतला करना होंगा, ऐसा आप आसानी से अपने हथेलियों की सहायता से कर सकते हो। अब गोल वाले भाग को आप अपनी हथेलियों की सहायता से धीरे-धीरे दबाते रहिये, ध्यान रहे की रोटी का आकर गोलाकार ही रहना चाहिये, यदि दबाते समय आकार थोडा बिगड़ता है तो पहले उसे ठीक कर लीजिये। हथेलियों की जगह पर आप रोलिंग पिन का भी उपयोग कर सकते हो। लेकिन पारंपरिक रूप से जवारी की रोटी हाँथो से ही बनायीं जाती है।

अब तवे को गर्म रखे और तवा अच्छी तरह से गर्म होने के बाद उसपर रोटी रखे। कुछ सेकंड बाद, जब रोटी थोड़ी सी भुन जाये तब रोटी की उपरी परत पर हल्का सा पानी लगाये।

अब जबतक पानी को रोटी सोख नही लेती तबतक रोटी को पकने दीजिये और कुछ समय बाद रोटी को पलट दे। ध्यान रहे की जवारी को रोटी को पकने में थोडा समय लगता है इसलिए रोटी की दोनों बाजुओ को अच्छी तरह से पकने दीजिये।

अब तैयार गर्म जवारी की रोटी को आप सुखी सब्जी के साथ भी परोस सकते हो। लेकिन इसका पारंपरिक जोड़ झुनका, बैंगन का भरता और ठेचे के साथ ही है। आशा करता हूँ की गरमा गर्म जवारी को रोटी के इस स्वाद को आप कभी भूल नही पाओंगे।

Read More – Recipes In Hindi 

जरुर पढ़े – 

  1. पनीर पराठा बनाने की विधि
  2. पालक पूरी बनाने की विधि
  3. Chapati Recipe in Hindi

Note:- अगर आपको हमारा ज्वार रोटी (जवारी की रोटी) | Jowar Ki Roti Recipe In Hindi आर्टिकल अच्छा लगा तो जरुर Facebook पर लाइक करे. और हमसे जुड़े रहिये. हम आपके लिए और ऐसे Recipes लायेंगे.
Please Note :- जवारी की रोटी / Jowar Ki Roti बनाने के लिए दी गयी जानकारी को हमने हमारे हिसाब से बताया है.

2 Comments
  1. Dipali says

    Main hamesha bahar hotal me khana kahane jati hu to waha par Jowar Ki Roti Hi khana pasand karati hu. Kafi dino se ghar par banane ki koshish kar rahi thi apaka aaj ye lekh padha isase mujhe kafi madat mili.

    Thanks

  2. gyanipandit says

    jowar ki roti to bahot se logo ko pasand hain par use kaise banate hain uski puri tarah se jankari nahi thi aapne jowar ki roti ki recipes batakar mushkil assan kar di,
    dhanyvad

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.