आंवला मुरब्बा बनाने की विधि | Amla Murabba

0
1332

Amla Murabba – आंवला मुरब्बा एक स्वास्थकारी चटनी की तरह हैं जिसे आंवले का उपयोग कर बनाया जाता है। आंवला विटामिन, मिनरल्स और एंटीओक्सिडेंट से समृद्ध होता है। आंवला स्वास्थकारी फ़ायदे से समृद्ध होता है और साथ ही पाचन के लिए भी सहायक होता है। आंवले का आचार और चटनी दोनों ही हमारे स्वास्थ के लिए लाभदायक होते है। विशेषतः बच्चो को आंवले की चटनी बहुत पसंद आती है।

आंवला मुरब्बा बनाने की विधि – Amla Murabba
Amla Murabba

इस भारतीय डिश को हम कच्चे आंवले का उपयोग कर बना सकते है और यहाँ निचे आंवले का मुरब्बा बनाने की विधि भी बताई गयी है। इस प्रक्रिया में आंवले को सबसे पहले शक्कर की चासनी में भिगोया जाता है। इस मुरब्बे का आप कयी दिनों तक भण्डारण करके भी रख सकते हो।

आंवला मुरब्बा बनाने की सामग्री
Content to prepare Amla Murabba:

1. आंवला – 1 किलो
2. शक्कर – 1 किलो
3. पानी – 1 लीटर

आंवला मुरब्बा की विधि
Amla Murabba Recipe In Hindi:

सबसे पहले आंवलो को अच्छी तरह से धो लीजिए और फिर एक बर्तन में पानी गर्म कीजिए। जब पानी उबलने लगे तो उसमे आंवले डाल दीजिए। उबालते समय आँच तेज ही रखे। इसकेबाद तक़रीबन 15 मिनट तक आंवलो को उबलते हुए पानी में ही रखे। 10 मिनट के बाद गैस बंद कर दे और आंवलो को बर्तन में से बाहर निकाल लीजिए। अब दुसरे बर्तन में 1 लीटर पानी और उसमे 1 किलो शक्कर डालिए।

डालने के बाद सबसे पहले शक्कर को पानी में अच्छी तरह से घुलने दीजिए। फिर इसमें आंवलो को मिला लीजिए और गैस की आंच को भी थोडा कम कर दीजिए। 35 से 45 मिनट तक पकाने के बाद गैस बंद कर दीजिए।

इसके बाद 1 दिन तक बर्तन को ढँका हुआ ही रहने दीजिए। इसके बाद आंवलो को उसमे को बाहर निकाल दीजिए और शक्कर के पानी को 10 मिनट तक पकने दीजिए। इसके बाद दोबारा उसमे आंवलो को डाल दे और 10 मिनट तक पकने दीजिए। इसके बाद उसमे इलाइची पाउडर भी मिला दीजिए। फिर इसे ठंडा होने के लिए रख दीजिए और कांच के साफ़ बर्तन में भरकर रख दीजिए।

टिप्स:

1. गर्म करते समय चासनी को बार-बार देखते रहे, ध्यान रहे की चासनी का रंग गहरा भूरा नही होना चाहिए।

2. यदि आप शक्कर की चासनी नही बनाना चाहते तो सीधे-सीधे शक्कर को आंवलो में मिला दीजिए और 6 से 8 घंटो तक उसे ढँका हुआ रहने दीजिए।

3. जितना ज्यादा आप पानी डालोगे, उतनी ही ज्यादा देर तक आपको आंवलो को पकाने की जरुरत होंगी। क्योकि इस बात का ध्यान रखना बहुत जरुरी है की शक्कर के चासनी की स्थिरता बनी रहे। इसीलिए यदि आप जल्दी मुरब्बा बनाना चाहते ही तो शक्कर के चासनी की स्थिरता और उसके गाढ़ेपन का ध्यान रखे।

इससे आंवले का रस बाहर निकल जाएगा और शक्कर भी अच्छी तरह से आंवलो में घुल जाएँगी, अर्थात शक्कर अपनेआप चासनी में परिवर्तित होने लगेगी। इस उपाय का प्रयोग करते समय आपको शक्कर डालने के बाद कुछ देर तक आंवलो को अलग रखना होंगा।

4. लेकिन यदि आप जल्दी से आंवले का मुरब्बा बनाने चाहते हो तो उन्हें तुरंत 1 कप पानी के साथ शक्कर की चासनी में डाल दीजिए। इसके बाद धीमी आंच पर शक्कर को पूरी तरह से पानी में घुल जाने दीजिए।

5. मुरब्बा बनाने के लिए आप स्टील के बर्तन का भी उपयोग कर सकते हो, लेकिन स्टील के बर्तन में आंवलो को ज्यादा समय तक ना रखे।

6. भण्डारण के लिए आप किसी भी कांच का बर्तन का उपयोग कर सकते हो। बर्तन में से मुरब्बा निकालने से पहले अपने हांथो को साफ़ कर ले।

7. कभी भी लोहे या एल्युमीनियम के बर्तन में मुरब्बा नही बनाना चाहिए, इससे बहुत जल्दी मुरब्बा बासी हो जाता है।

8. बनाने के 2 से 3 दिन बार मुरब्बे की जाँच करते रहे, क्योकि दिन प्रति दिन मुरब्बे की चासनी गाढ़ी होती रहती है। लेकिन यदि आप दोबारा चासनी को गर्म करोगे तो यह बहुत जल्दी जलने लगेगी और इससे बासी दुर्गन्ध भी आने लगेगी।

9. इस प्रकार इन सुझावों को अपनाकर आप स्वादिष्ट मुरब्बा बना सकते हो।

Read More: 

  1. Nimbu Pani Recipe
  2. Aam Panna Recipe
  3. Amla Juice Recipe

Note :- अगर आपको हमारा आंवला मुरब्बा बनाने की विधि – Amla Murabba आर्टिकल अच्छा लगा तो जरुर Facebook पर लाइक करे. और हमसे जुड़े रहिये. हम आपके लिए और ऐसे Indian Recipes लायेंगे.
Please Note :- आंवला मुरब्बा / Amla Murabba बनाने के लिए दी गयी जानकारी को हमने हमारे हिसाब से बताया है.

SHARE
Hello friends, I am Shilpa K. founder of LifeStyleHindi.com, this website is the online source of Lifestyle information in Hindi, recipes in Hindi, beauty tips, health tips, and more lifestyle tips article in Hindi. we focused on delivering rich and evergreen subject that useful for Hindi reader.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here