तील के बीजो से होने वाले स्वास्थकारी फायदे | Til ke Fayde in Hindi

4

तील के बीज खास तौर पर हिंदी में तिल, तेलगु में ‘एल्लू’ , मराठी में ‘तीळ’ और बंगाली में ‘तिल’ के नाम से जाने जाते है। तील के बीज सुगन्धित बीज संस्करणों में से एक है। बहुत से एशियाई और मध्य पूर्वी खाद्य पदार्थो में इसके बीजो का उपयोग किया जाता है। तील के बीज अपनी लंबी उम्र के लिए भी जाने जाते है। बल्कि यह बीज हमारे शरीर के लिए भी काफी लाभदायक होता है। तील के बीजो में गुणकारी विटामिन और मिनरल्स का समावेश होता है, जो इसे दुनिया के सबसे स्वास्थकारी बीजो में से एक है। आज हम आपके लिए तिल के फ़ायदे / Til ke Fayde लेकर आये हैं, आपको इससे जरुर फ़ायदा होंगा –

तील के बीजो से होने वाले स्वास्थकारी फायदे – Til ke Fayde in Hindi
Til ke Fayde

खाद्य पदार्थो में उपयोग होने के साथ-साथ, तिल के बीजो में पुष्टिकर तत्व, निवारक और रोगनाशक गुण पाए जाते है, जिनका उपयोग अक्सर पारंपरिक दवाइयों में भी किया जाता है। तिल के बीजो से बने तेल में ओमेगा-6 फैटी एसिड, फ्लावोनोइड फेनोलिक एंटीओक्सिडेंट, विटामिंस और डाइटरी फाइबर पाया जाता है। यह बीज, कयी तरह से हमारे स्वास्थ के लिए लाभदायक होते है। तिल के बीजो से होने वाले स्वास्थकारी फायदे निचे दिए गये है –

1. दमकती त्वचा –

जैसा की हम सभी जानते है की तिल के बीजो में भारी मात्रा में जिंक पाया जाता है, जो कोलेजन के निर्माण में एक महत्वपूर्ण अंग माना जाता है, जो माँसपेशियो के ऊतको को मजबूत बनाता है और बालो एवं त्वचा को भी स्वस्थ रखता है। साथ ही तिल के बीजो से बना तेल जली हुई चमड़ी के धब्बो को मिटाने और बुढ़ापे वाली त्वचा को दूर करने में सहायक है।

• तिल के बीज का तेल आपको दमकती त्वचा प्रदान करता है। इनमे त्वचा को मुलायम और कोमल बनाये रखने के गुण होते है, साथ ही यह हलके घावो और खरोच को भी जल्दी भरने में सहायक है।

• चेहरे को त्वचा को कसने में भी तिल के बीज सहायक है, खासकर नाक के आस-पास की त्वचा को और तिल के बीच चेहरे पर हो रहे गड्डो के नियंत्रण में सहायक है।

• तिल के बीज चेहरे पर हो रहे दाग-धब्बो को भरने में भी सहायक है।

• दमकती त्वचा के लिए आप तिल के बीजो से बने फेशियल का उपयोग भी कर सकते है।

• तिल के बीजो से अपने चेहरे की हलके हाँथो से मसाज करे और फिर चावल और बेसन पाउडर से अपने चेहरे को स्क्रब करे और फिर कुछ समय बाद गुनगुने पानी से चेहरे को धो लीजिए।

• बाद में, चेहरे पर हुए गड्डो को भरने के लिए अपने चेहरे को ठण्डे पानी से धो लीजिए।

2. उच्च प्रोटीन शाकाहारी आहार –

तिल के बीज आहारीय प्रोटीन के अच्छे स्त्रोत होते है, जिनमे ज्यादा मात्रा में उच्च-गुणवत्ता वाला एमिनो एसिड भी पाया जाता है। इसीलिए उच्च प्रोटीन शाकाहारी आहार के लिए तिल के बीज सर्वोत्तम है। इन्हें केवल आपको अपने सलाद, सब्जियों और नूडल्स पर छिडकने की जरुरत है।

3. हड्डी का स्वास्थ –

तिल के बीजो में जिंक पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने में सहायक है। इस मिनरल्स की कमी से कमर और रीढ़ की हड्डी वाले क्षेत्र में ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या हो सकती है। साथ ही तिल के बीज कैल्शियम और ट्रेस मिनरल्स का भी अच्छा स्त्रोत है, जिससे हड्डियों का स्वास्थ बरक़रार रहता है।

4. विरोधी कैंसर गुण –

तिल के बीज में मैग्नीशियम पाया जाता है जिसमे विरोधी कैंसर गुण होते है। साथ ही इनमे फीटेट नाम का कैंसर विरोधी तत्व भी पाया जाता है। तिल के बीज कोलोरेक्टल ट्यूमर की समस्या को दूर करने या कम करने में प्रभावशाली साबित हुए है।

5. मौखिक स्वास्थ –

तिल के बीज और तिल के बीजो का तेल आपके मौखिक स्वास्थ को बढ़ाने में भी सहायक है, साथ ही आपके दाँतो में लगी पट्टिका को हटाने में भी सहायक है। अपने मुँह में तिल के तेल को डालने से दाँतो में फँसे कीटाणु भी निकल जाते है और दाँत स्वस्थ रहते है।

6. आँखों का स्वास्थ –

• पारंपरिक चीनी औषधी के अनुसार, आंतरिक अंग और बाह्य अंगो के बीच काफी गहरा संबंध है, जैसे की आँख और लीवर।

• जैसे की लीवर में खून का संचार होता है और लीवर की कुछ शाखाये आँखों तक भी जाती है, वैसे ही लीवर आँखों को सुचारू रूप से चलाने के लिए वहाँ रक्त प्रवाह भी करवाता है।

• काले तिल के बीज लीवर में रक्त के संचार को बढ़ाने में सहायक होते है, साथ ही वे आँखों के लिए भी लाभदायक होते है। इनसे आँखों के रूखेपन और दुखने की समस्या को दूर किया जा सकता है।

7. बालो की बढवार को प्रोत्साहित करने में सहायक –

तिल के बीजो में आवश्यक फैटी एसिड जैसे ओमेगा-3, ओमेगा-6 और ओमेगा-9 पाया जाता है जो बालो को बढ़ाने में सहायक है। तिल के बीज बालो में आवश्यक तत्वों को भरपर सिर को स्वस्थ रखते है। रोजाना तिल के बीजो के तेल से सिर की मसाज करने पर सिर में रक्त प्रवाह बढ़ता है और आपके बाल भी स्वस्थ रहते है।

तिल के बीज पूरी तरह से आवश्यक न्यूट्रीशन से भरे हुए होते है। इसीलिए हो सके तो आज से ही इन्हें अपने आहार में शामिल कीजिये और ऐसा करने पर आपको जल्द ही परिणाम मिलेंगा। तिल के बीजो से बने तेल का उपयोग आप खाने में उपयोग किये जाने वाले तेल की तरह भी कर सकते हो।

Read More – Health Tips 

जरुर पढ़े –

  1. निम्बू के फ़ायदे और उपयोग
  2. शहद के फायदे
  3. जैतून के तेल के फायदे
  4. टमाटर के फायदे
  5. तुलसी के फ़ायदे
  6. दालचीनी के फ़ायदे

Note :- अगर आपको हमारा तील के बीजो से होने वाले स्वास्थकारी फायदे – Til ke Fayde in Hindi आर्टिकल अच्छा लगा तो जरुर Facebook पर लाइक करे. और हमसे जुड़े रहिये. हम आपके लिए और ऐसे Health Tips लायेंगे.
Please Note :- तिल के फायदे / Til Benefits के लिए दी गयी जानकारी को हमने हमारे हिसाब से बताया है.

4 Comments
  1. HindIndia says

    बहुत ही सुन्दर प्रस्तुति …. Nice article with awesome explanation ….. Thanks for sharing this!! 🙂 🙂

  2. gyanipandit says

    तिल हमारे स्वास्थ के लिए बहुत लाभदायक हैं, तिल के अलग अलग पदार्थोँ की विधी बताये.

  3. HindIndia says

    शानदार पोस्ट … बहुत ही बढ़िया लगा पढ़कर …. Thanks for sharing such a nice article!! 🙂 🙂

  4. Sonu Kumar says

    आपके द्वारा बातये गए हर एक सुझाव बहुत कारगर है । आप बहुत अच्छा काम कर रही हो आपके लिखने की कला बेहतरीन है ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.