बाह्य प्राणायाम | Bahya Pranayama In Hindi

2
8488

बाबा रामदेव योगा / Baba Ramdev Yoga में अलग-अलग प्राणायाम और उन्हें करने विधि होती है जो अच्छी सेहत और शरीर को तंदरुस्त करने के लिए सहायक होती है। बाह्य प्राणायाम / Bahya Pranayama यह एक ऐसा प्राणायाम है जिसमे अभ्यास करते समय साँस को बाहर छोड़ा जाता है, इसीलिये इसे बाह्य प्राणायाम कहा जाता है. इस प्राणायाम / Pranayam को “बाहरी साँस का योगा” भी कहा जाता है. बाह्य मतलब बाहर. इस प्राणायाम को कपालभाति प्राणायाम के बाद करना चाहिये.

बाह्य प्राणायाम / Bahya Pranayama
Bahya Pranayama

बाह्य प्राणायाम करने की विधि / How To Do Bahya Pranayama –

सबसे पहले मध्यपट को निचे झुकाये और फेकडो को फुलाने की कोशिश करे और ऐसा महसुस करे जैसे की आपकी गले की हड्डियाँ फूल रही हो.

तेज़ी से साँस छोड़ते जाये और ऐसा करते समय अपने पेट पर भी थोडा जोर दे. शरीर के मध्यपट से साँस ऊपर फेकने की कोशिश करते रहे.

अब धीरे-धीरे अपनी छाती को ठोड़ी लगाने की कोशिश करे और अपने पेट को हल्के हाथो से दबाकर साँस बाहर निकलने की कोशिश करते रहे. आपको ऐसा करने की जरुरत है, ऐसा आपको करना ही पड़ेगा.

इस अवस्था में जितनी भी देर तक आप अपने आप को रख सकते है उतनी देर तक रहे.

अब धीरे-धीरे अपने पेट और मध्यपट को छोड़े और उन्हें हल्का महसुस होने दे.

इस प्रक्रिया को आप 4-5 बार दोहरा भी सकते हो.

बाह्य प्राणायाम के फायदे / Benefits Of Bahya Pranayama –

बाह्य प्राणायाम कब्ज, एसिडिटी और पेट से सम्बंधित बीमारियो से बचाता है.

प्रजनन अंगो के इलाज में सहायक.

डायबटीज के मरीज के लिये लाभकारी.

मूत्र संबंधी बीमारियो से निजात दिलाता है.

ध्यान रहे / Precautions –

साँस से सम्बंधित सारे प्राणायाम खाली पेट ही करे, यदि प्राणायाम करने से पहले ही आपने कुछ खा लिया हो तो अगले 5-6 घंटो तक प्राणायाम करने की कोशिश न करे.

जिन्हें ह्रदय, ब्लड प्रेशर संबंधी बीमारियाँ है ऐसे लोग इस प्राणायाम को न करे.

पीरियड के समय में महिलाये इस प्राणायाम को ना करे.

इस प्राणायाम को करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर या सलाहकार से राय अवश्य ले लीजिये.

और भी प्राणायाम के बारेमें जानकारी जरुर पढ़े –

  1. अनुलोम विलोम प्राणायाम
  2. उज्जायी प्राणायाम
  3. भ्रामरी प्राणायाम
  4. Surya Namaskar

Note :- अगर आपको हमारा बाह्य प्राणायाम / Bahya Pranayama  आर्टिकल अच्छा लगा तो जरुर Facebook पर लाइक करे. और हमसे जुड़े रहिये. हम आपके लिए और ऐसे Pranayam लायेंगे.

Please Note :- बाह्य प्राणायाम / Bahya Pranayama बनाने के लिए दी गयी जानकारी को हमने हमारे हिसाब से बताया है.

SHARE
Hello friends, I am Shilpa K. founder of LifeStyleHindi.com, this website is the online source of Lifestyle information in Hindi, recipes in Hindi, beauty tips, health tips, and more lifestyle tips article in Hindi. we focused on delivering rich and evergreen subject that useful for Hindi reader.

2 COMMENTS

  1. yoga करने से सभी रोग काफी हद तक ठीक हो जाते हैं, स्वस्थ रहने के लिये हर किसीने हर रोज yoga करना चाहिये.

  2. Hi there, You have done a fantastic job. I
    will definitely digg it and personally suggest to my friends.
    I’m confidentt hey will be benefited from this website.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here